Search This Blog

Translate

Monday, August 31, 2015

Lord Siva with 26 faces..




Lord Siva with 26 faces and 52 hands on the temple tower of Sucheendram in Tamilnadu. 

अब पता चलेगा कि फ़सल कैसे उगाई जाती हैं।


अब पता चलेगा कि फ़सल कैसे उगाई जाती हैं। एक बार एक किसान परमात्मा से बड़ा नाराज हो गया ! कभी बाढ़ आ जाये, कभी सूखा पड़ जाए, कभी धूप बहुत तेज हो जाए तो कभी ओले पड़ जाये! हर बार कुछ ना कुछ कारण से उसकी फसल थोड़ी ख़राब हो जाये!

संता जोक्स...



बॉस – आपकी शादी हो गई ?

संता – हाँ जी … दो महीने पहले एक लड़की से हुई है।

बॉस – शादी लड़की से ही होती है ….

लड़की: तुम बहुत पैसे वाले लगते हो!


लड़का: अंकल मैं आपकी बेटी से शादी करना चाहता हूँ।

लड़की का बाप: क्या करते हो?

लड़का: खेती।

लड़की का बाप: इस ज़माने में खेती कौन करता है? यह शादी नहीं हो सकती।

लड़का: अंकल प्याज़ की खेती करता हूँ।

लड़की: कौन बोल रहा है!




लड़का(फ़ोन पे): हेल्लो , चमेली केसी हो तूम?

लड़की: कौन ?

लड़का: तेरा लवर बोल रहा हूँ मेरी छम्मक छल्लो

लड़की: तू चिंटू बोल रहा है क्या ?

लड़का: अरे वाह मेरा नाम इतनी जल्दी पहचान गयी

पत्नी: क्या बात है तुम रुक क्यों गए?



रात को पलंग पर पति अपनी लेटी हुई, पत्नी के पास जाकर उसके कंधे के आस-पास अपना हाथ लगाता है, इसके बाद कमर के इधर-उधर फिर उसकी कलाई के पास अंतत अचानक रुक जाता है.

"नाम" और "बदनाम" में क्या फर्क है ?




"नाम" और "बदनाम" में क्या फर्क है ?


"नाम" खुद कमाना पड़ता है , और "बदनामी" लोग आपको कमा के देते हैं! 

आज का सुविचार : अनमोल वचन



आज का सुविचार : अनमोल वचन


॥ एक कागज का टुकड़ा गवर्नर के हस्ताक्षर से नोट बन जाता है। जिसे तोड़ने, मरोडने, गंदा होने एवँ जज॔र होने से भी उसकी कीमत कम नहीं होती...॥

॥आप भी ईश्वर के हस्ताक्षर है, जब तक आप ना चाहे आपकी कीमत कम नहीं हो सकती, आप अनमोल है। अपनी कीमत पहचानिये..॥

ऐ "सुख" तू कहाँ मिलता है? क्या तेरा कोई स्थायी पता-ठिकाना है?




ऐ "सुख" तू कहाँ मिलता है? क्या तेरा कोई स्थायी पता-ठिकाना है? 


क्यों बन बैठा है अन्जाना, आखिर क्या है तेरा ठिकाना...


कहाँ कहाँ ढूंढा तुझको, पर तू न कहीं मिला मुझको....

फिर यहां पर कौन-सी करेंसी चलती है..?"


कल रात मैंने एक "सपना" देखा.!! सपने में, मैं और मेरी Family...शिमला घूमने गए.....!


हम सब शिमला की रंगीन वादियों में कुदरती नजारा देख रहे थे......! जैसे ही हमारी Car 'Sunset Point' की ओर निकली... अचानक गाडी के Break फेल हो गए.. और हम सब करीबन 1500 फिट गहरी खाई में जा गिरे..! मेरी तो 'on the spot' Death हो गई...


जीवन में कुछ अच्छे कर्म किये होंगे.. इसलिये यमराज मुझे स्वर्ग में ले गये...

Sunday, August 30, 2015

कड़वा सच..





कड़वा सच


“ब्लड बैंक ” ही एक ऐसी जगह है … जहाँ पर कोई नहीं पूछता की खून हिन्दू का, मुसलमान का, इसाई का या कौनसी जाति का है…


इंसानियत-मानवता सिर्फ वहीं पर नजर आती है..

गर्लफ्रेंड बनने का आवेदन!




गर्लफ्रेंड बनने का आवेदन!

सभी लडकियों को सूचित किया जाता है

कि !!

.

.

.

.

.

.

.

.

मुझे गर्लफ्रेंड की जरुरत है ।

निम्नलिखित योग्यता होना आवश्यक है

.

.

.

.

1. लड़की की उम्र 17-20 तक ।

2. रंग साफ़ , गोरा , कद – 5 ‘ 5″ – 6′

3. मॉडर्न ड्रेस और सूट वाली हो ।

4 . लम्बे बाल हो ।

5. हिंदी , इंग्लिश जानती हो ।

6. 12th पास जरुरी होनी चाहिए ।

7. बोलने चलने में अच्छी ।

8. हंसी मजाक वाली भी हो।

आवेदन करने वाली लड़की को सेलरी के साथ निम्नलिखित सुविधाएँ फ्री मिलेंगी :-

Saturday, August 29, 2015

प्यार क्या है ? विस्तार से बताइये (20 अंक)?


12 वीं' कक्षा का एक प्रश्न 


प्रश्न : प्यार क्या है ? विस्तार से बताइये (20 अंक)

अमरीकी विद्यार्थी का उत्तर: प्यार 'दर्द' को कहते हैं
(परीक्षा परिणाम: प्राप्तांक 9/20)


इंग्लैंड के विद्यार्थी का उत्तर: प्यार 'ज़िन्दगी' को कहते हैं

(परीक्षा परिणाम: प्राप्तांक 5/20)

Friday, August 28, 2015

मुस्कुराओ..... क्योंकि



मुस्कुराओ..... क्योंकि परिवार में रिश्ते तभी तक कायम रह पाते हैं जब तक हम एक दूसरे को देख कर मुस्कुराते रहते है।”

मुस्कुराओ..... क्योंकि दुनिया का हर आदमी खिले फूलों और खिले चेहरों को पसंद करता है।”

इसीलिए प्याज आज रुला रही है..




जब भगवान सारी सब्जियों को उनके गुण और सुगंध बांट रहे थे तब प्याज चुपचाप उदास होकर पीछे खड़ी हो गई. सब चले गए प्याज नहीं गई. खड़ी रही..

तब विष्णुजी ने पूछा.. क्या हुआ तुम क्यों नही जाती?

क्या आप की समझ में आता है यह!?!


क्या आप की समझ में आता है यह!?!


आज तक समझ में नहीं आया कि "OK" की जगह "K" और "GOOD MORNING" की जगह GM लिखने वाले, जीवन के 2 सेकंड बचा के क्या उखाड़ लेते है?

Zindagi ke saath bhi, zindagi ke baad bhi..



बीवी ने अपना पोट्रेट बनवाया फिर कुछ सोच कर पेंटर को कहा की गले में नवलखा हार भी डाल दो

पेंटिंग बनने के बाद पेंटर ने पूछा आपने ऐसा क्यों किया।। 

आज का सुविचार -अनमोल वचन


आज का सुविचार -अनमोल वचन

☀काश किस्मत भी नींद की तरह होती, रोज़ सुबह खुल तो जाती।

☀तेरे डिब्बे की वो दो रोटिया कही भी बिकती नहीं , माँ ! होटल के खाने से आज भी भूख मिटती नहीं ।।

☀बुलंदी की उडान पर हो तो , जरा सब्र रखो। परिंदे बताते हैं कि आसमान में ठिकाने नही होते ।। 

Thursday, August 27, 2015

सांता जोक्स!



सांता जब भी कपडे धोता, तब ही बारिश हो जाती .. . .

एक दिन धुप निकली, तो वो खुश हुआ और दुकान पे सर्फ लेने गया ..

वो जैसे ही दुकान पर गया बदल जोर-जोर से गरजने लगे,

घंटी बज गयी!




 घंटी बज गयी!






एक दरवाजे पर एक घंटी लगी हुई थी, जिस पर लिखा था, 'डॉक्टर के लिए घंटी बजाइए।'



आधी रात को एक शराबी शराब में टुन्न उधर से निकला, उसने घंटी देखी, फिर ऊपर लिखी लाइन पढ़ी और फिर घंटी बजाने लगा।

हरियाणवी जोक।




एक हरियाणवी छोरे की दिल्ली की एक पतली सी लडकी से फ्रेँडशिप हो गई!

उसने लड़की को मैसेज भेजा:

फेसबुक स्टेटस..




लड़की ने फेसबुक पर स्टेटस डाला, "मच्छर ने काट लिया।"

लड़के का कमेंट आया, "मैं उस मच्छर का खून पी जाऊंगा।"

मानव- जीवन का उद्देश्य क्या है?


         मानव- जीवन का उद्देश्य क्या है?


एक बार पचास लोगों का ग्रुप किसी सेमीनार में हिस्सा ले रहा था।सेमीनार शुरू हुए अभी कुछ ही मिनट बीते थे कि स्पीकर अचानक ही रुका और सभी पार्टिसिपेंट्स को गुब्बारे देते हुए बोला , ” आप सभी को गुब्बारे पर इस मार्कर से अपना नाम लिखना है। ” सभी ने ऐसा ही किया। 


अब गुब्बारों को एक दुसरे कमरे में रख दिया गया। स्पीकर ने अब सभी को एक साथ कमरे में जाकर पांच मिनट के अंदर अपना नाम वाला गुब्बारा ढूंढने के लिए कहा। 

1 रूपया की कीमत तुम का जानो रमेश बाबू।


1 रूपया की कीमत तुम का जानो रमेश बाबू!

1 रूपया की कीमत क्या है मै बताता हूँ...

.

सुपर बाज़ार व मौल से 1 रुपया क्यों वापस क्यों लेना चाहिए। मानलो 500 लोग बिगबाजार जाते है

रोजाना कोई भी खुल्ले पैसे वापस नहि लेते।

500 × 1 = Rs. 500/-

365 दिन, 

500 × 365 = Rs 1,82,500/-

अगर एक बाजार से देश में 1500 बिगबाजार है।

बात वही सोच नई - नजरिया



मैैसेज वाकई कमाल कि है अवश्य पढ़ना जी बात वही सोच नई.. NEGATIVE- vs POSITIVE+ Way Of Thinking! 


एक महान लेखक अपने लेखन कक्ष में बैठा हुआ लिख रहा था।

1) पिछले साल मेरा आपरेशन हुआ और मेरा गालब्लाडर निकाल दिया गया। इस आपरेशन के कारण बहुत लंबे समय तक बिस्तर पर रहना पड़ा।


2) इसी साल मैं 60 वर्ष का हुआ और मेरी पसंदीदा नौकरी चली गयी। जब मैंने उस प्रकाशन संस्था को छोड़ा तब 30 साल हो गए थे मुझे उस कम्पनी में काम करते हुए।


3) इसी साल मुझे अपने पिता की मृत्यु का दुःख भी झेलना पड़ा।

Wednesday, August 26, 2015

अजीब है ना!


अजीब है ना


भगवद गीता में कुल 115 श्लोक हैं, उसमें से आपके जन्म वर्ष घटाकर देखाेगे ताे....आपकी उम्र का पता लगेगा .....

पति पत्नी छुटकुले -हंस हंस के पागल हो जाओगे।




पति ‍व्हिस्की का एक ग्लास बनाता है और पत्नी से कहता है - लो पिओ इसे..!

पत्नी व्हिस्की चखती है, फिर कहती हैं - छी‍.... छी.....!, कितनी कड़वी है...!


पति - और तू सोचती है कि मैं रोज अय्याशी करता हूं..।

**************************

एक शराबी छत पे से नीचे गिर गया। सब लोग आए और पूछने लगे के क्या हुआ??


शराबी - " पता नही भाई..... में भी जस्ट अभी नीचे आया हूं "

शादी के कई साल बाद!


शादी के कई साल बाद


एक औरत को शादी के कई साल बाद ख्याल आया कि अगर वो अपने पति को छोड़ के चली जाए तो वो कैसा महसूस करेगा। ये विचार आते ही उसने एक कागज लिया और उसपे लिखा ," अब मै तुम्हारे साथ और नहीं रह सकती,मै उब गयी हु तुम्हारे साथ से,मै घर छोड़ के जा रही हु हमेशा के लिए।"


उस पत्र को उसने टेबल पे रखा और जब पति के आने का टाइम हुआ तो उसकी प्रतिकिरया देखने के लिए बेड के निचे छुप गयी।

पति आया और उसने टेबल पे रखा पत्र पढ़ा। कुछ देर की चुप्पी के बाद उसने पत्र के निचे कुछ लिखा।

Tuesday, August 25, 2015

Being a woman is priceless


WOMAN


● changes her name

● changes her home

● leaves her family

● moves in with you

● builds a home with you

● gets pregnant for you

● pregnancy changes her body

● she gets fat

● almost gives up in the labour room due to the unbearable pain of child birth

● even the kids she delivers bear your name

प्यार को समझें और उसे महत्व दें। उसे न तोले, क्योंकि..


क्योंकि प्यार अनमोल है।


एक लड़का एक लड़की को बहुत प्यार करता था। जब लड़के ने लड़की को प्रपोज किया, तो लड़की ने उसे दुत्कारते हुए कहा कि जितना आप एक माह में कमाते हैं, उससे कहीं अधिक मैं सात दिन में में खर्च कर देती हूं। इसलिए हम दोनों का कोई मेल नहीं है। पर हां, अगर तुम पैसे कमाकर मेरे परिवार के बराबर की स्थिति में आ जाओगे, तो मैं तुमसे शादी कर सकती हूं।

आज का अनमोल वचन : बहुत ही खूबसूरत लाईनें



बहुत ही खूबसूरत लाईनें।


किसी की मजबूरियाँ पे न हँसिये,
कोई मजबूरियाँ ख़रीद कर नहीं लाता..!

डरिये वक़्त की मार से, 
बुरा वक़्त किसीको बताकर नही आता..! 

अकल कितनी भी तेज ह़ो, 
नसीब के बिना नही जीत सकती..!

Monday, August 24, 2015

अनजाने पाप- कर्म का फल



अनजाने पाप- कर्म का फल 


एक राजा ब्राह्मणों को लंगर में भोजन करा रहा था। तब पंक्ति के अंत मैं बैठे एक ब्राम्हण को भोजन परोसते समय एक चील अपने पंजे में एक मुर्दा साँप लेकर राजा के उपर से गुजरी। और उस मुर्दा साँप के मुख से कुछ बुंदे जहर की खाने में गिर गई। किसी को कुछ पत्ता नहीं चला। फल स्वरूप वह ब्राह्मण जहरीला खाना खाते हीं मर गया। अब जब राजा को सच का पता चला तो ब्रम्ह हत्या होने से उसे बहुत दुख हुआ।



मित्रों ऐसे में अब ऊपर बैठे यमराज के लिए भी यह फैसला लेना मुश्किल हो गया कि इस पाप-कर्म का फल किसके
खाते में जायेगा ???



राजा... जिसको पता ही नहीं था कि खाना जहरीला हो गया है..

सारा शहर मुझे प्याज़ के नाम से जानता है. .


प्याज कोई खेल नहीं!


बढती प्याज की कीमतों के हिसाब से जल्दी ही फिल्मो के डायलाग इस प्रकार के होंगे ! मुलाहिजा फरमाईये।



☀मेरे राम श्याम आयेंगे; और दो किलो प्याज़ लायेंगे. . .


☀ये ढाई किलो के प्याज़ जब आदमी लेता है ना; तो आदमी उठता नहीं उठ जाता है. . .

Sunday, August 23, 2015

जीवन मंत्र



जीवन मंत्र 


दीपक बुझाने से दीपक बुझाता है! 

रौशनी नहीं!


दान करने से रुपया जाता है! 

लक्ष्मी नहीं!

Saturday, August 22, 2015

आखिर पत्नी क्या है..??



आखिर पत्नी क्या है..??



फौजी: सारे दुश्मन हमसे डरते हैं और हम बीवी से !!


टीचर: मैं कॉलेज में लैक्चर देता हूं और घर में बीवी से सुनता हूं !!


ऑफिसर: मैं ऑफिस में बॉस हूं और घर में बीवी का नौकर !!

Friday, August 21, 2015

Boys will be Boys




Class Me Madam Ne Kaha Sab Apne Apne "bf ya gf" Ke Naam Paper Par Likho..


2 Minute Baad Ladkiya Boli: Complete Miss!!

Thursday, August 20, 2015

इसे कहते है.. "Service sector"





कुछ नन्हीं चींटीयां रोज अपने काम पर समय से आती थी और अपना काम अपना काम समय पर करती थी।


वे जरूरत से ज्यादा काम करके भी खूब खुश थी.......जंगल के राजा शेर नें एक दिन चींटीयों को काम करते हुए देखा, और आश्चर्यचकित हुआ कि चींटीयां बिना किसी निरीक्षण के काम कर रही थी।

Wednesday, August 19, 2015

बाबा आप सुबह से यहाँ क्या कर रहे है ?



रेलवे स्टेशन पर चाय बेचने

वाले लड़के

की नजरें अचानक

एक बुजुर्ग दंपति पर

पड़ी।

उसने देखा कि वो बुजुर्ग

पति अपनी पत्नी का

हाथ पकड़कर

उसे सहारा देते हुए चल

रहा था ।

Tuesday, August 18, 2015

बीवी से झगडे करने के फायदे…….



बीवी से झगडे करने के फायदे…….

1. नींद में कोई व्यवधान नहीं आता: सुन रहे हो क्या, लाइट बंद करो, पंखा बंद करो, चादर इधर दो, इधर मुह करो, टाइप कुछ भी बाते नहीं होती.


2. पैसे की बचत: जब बीवी से झगड़ा हुआ रहता है इस दौरान बीवी पैसे नहीं मांगती.

3. तनाव से मुक्ति: झगड़े के दैरान बातचीत बंद होती है जिससे किचकिच कम होती है और पति तनाव से मुक्त रहता है।

Monday, August 17, 2015

खम्भा बचा के !




एक औरत coma में चली गई ।  पति मुर्दा समझ के जलाने चला। रास्ते में अर्थी खम्भे में टकरा गई और औरत को होश आ गया ... और उसे वापस घर ले आये ..!!

माँ तो माँ होती है! क्या मेरी, क्या तेरी? 






पति के घर में प्रवेश करते ही पत्नी का गुस्सा फूट पड़ा : "पूरे दिन कहाँ रहे? आफिस में पता किया, वहाँ भी नहीं पहुँचे! मामला क्या है?"

"वो-वो... मैं..." पति की हकलाहट पर झल्लाते हुए पत्नी फिर बरसी, "बोलते नही? कहां चले गये थे। ये गंन्दा बक्सा और कपड़ों की पोटली किसकी उठा लाये?"

"वो मैं माँ को लाने गाँव चला गया था।"
पति थोड़ी हिम्मत करके बोला।


"क्या कहा? तुम्हारी मां को यहां ले आये? शर्म नहीं आई तुम्हें? तुम्हारे भाईयों के पास इन्हे क्या तकलीफ है?"

आग बबूला थी पत्नी! उसने पास खड़ी फटी सफेद साड़ी से आँखें पोंछती बीमार वृद्धा की तरफ देखा तक नहीं।

"इन्हें मेरे भाईयों के पास नहीं छोड़ा जा सकता। तुम समझ क्यों नहीं रहीं।"
पति ने दबीजुबान से कहा।

Thursday, August 13, 2015

CALL OF GOD




मैं ऊपरवाला बोल रहा हूँ, 
जिसने ये पूरी दुनिया बनाई वो ऊपरवाला.




तंग आ चुका हूँ मैं तुम लोगों से,




घर का ध्यान तुम न रखो और चोरी हो जाये तो, "ऊपरवाले तूने क्या किया". 

आज का सुविचार - वैष्णव का कष्ट और अष्टाक्षर मंत्र




वैष्णव का कष्ट और अष्टाक्षर मंत्र 

आम आदमी के जीवन में जब कष्ट आता है वह जन्म पत्रिका लेकर ज्योतिषियों के चक्कर लगाता है. 

देने वाला वृक्ष।

देने वाला वृक्ष

एक बार की बात है एक जंगल में सेब का एक बड़ा पेड़ था| एक बच्चा रोज उस पेड़
पर खेलने आया करता था| वह कभी पेड़ की डाली से लटकता कभी फल तोड़ता कभी उछल कूद करता था, सेब का पेड़ भी उस बच्चे से काफ़ी खुश रहता था| 



कई साल इस तरह बीत गये| अचानक एक दिन बच्चा कहीं चला गया और फिर लौट के नहीं आया, पेड़ ने उसका काफ़ी इंतज़ार किया पर वह नहीं आया| अब तो पेड़ उदास हो गया ।

Wednesday, August 12, 2015

झगड़ा उस कम्बख़्त ने किया है तो सज़ा उसे ही मिलनी चाहीए



बीवी ने अपनी मॉ को फ़ोन किया : मम्मी मेरा उनसे झगड़ा हो गया है, मैं 3-4 महीने के लिए घर आ रही हू ।


अब दिल थाम लो 


मॉ बोली : झगड़ा उस कम्बख़्त ने किया है तो सज़ा उसे ही मिलनी चाहीए, तू रूक मैं ही 5-6 महिने के लिए वहाँ आ जाती हूँ।

व्यक्ति को समझदार होना चाहिए, ‘सेंसटिव’ तो टूथपेस्ट भी है।




लड़का हैंडसम होना चाहिए, 
‘स्मार्ट’ तो फोन

भी होते हैं।

मांगो वत्स क्या चाहिये?



एक Employee की तपस्या से खुश होकर भगवान ने उसे दर्शन दिये और कहा: मांगो वत्स क्या चाहिये?


Employee के मुंह खोलने से पहले ही भगवान टोकते हुये बोले:"वत्स, 3 चीज़ें छोड़कर ही मांगना 


1. Salary रिवीजन के बारे में कुछ नहीं पूछना



2. प्रमोशन के बारे में कुछ नहीं पूछना



3. 6 बजे तक घर जाने के बारे में तो सपने में भी नहीं सोचना..


अब मांगो क्या चाहिये?

सीदा सादा टीचर।




गुरूजी विद्यालय से घर लौट रहे थे । रास्ते में एक नदी पड़ती थी । नदी पार करने लगे तो ना जाने क्या सूझा , एक पत्थर पर बैठ अपने झोले में से पेन और कागज निकाल अपने वेतन का हिसाब निकालने लगे ।

अचानक....., हाथ से पेन फिसला और डुबुक ....पानी में डूब गया । गुरूजी परेशान।

शरीर और आत्मा की बातें चलो सुनते हैं।




शरीर और आत्मा

की बातें चलो

सुनते हैं


सुबह के 4 बजे:-

AM

आत्मा -चलो उठो साधना

का समय हो गया है !

उठो ना !

शरीर -सोने दो न !

 क्यों तंग कर रही हो ?




पता नहीं क्या रात

को बहुत देर से

सोया था..




थोड़ी देर के बाद

साधना करूँगा ।

आत्मा -बोली ठीक

है और मन में सोचने

लगी मुझे भूख लगी है

और ये है क़ि समझता

ही नहीं है

सुबह के 6:-बजे तो

आत्मा बोली - अब तो उठ जाओ 

भाई !सूरज भी आपनी

किरणे फैलाते हुए हमें उठा रहा है

 उठो न plzzzzz.

Blog Archive

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...